मंगलवार, 28 दिसंबर 2010

अभिनेत्री मीना कुमारी और संगीतकार नौशाद

क्विज संचालन ---- प्रकाश गोविन्द


प्रिय साथियों
नमस्कार !!!
हम आप सभी का क्रिएटिव मंच पर अभिनन्दन करते हैं।

आप सभी ने जिस रूचि और उत्साह से सी.एम.ऑडियो क्विज़ में हिस्सा लिया और हमारा उत्साह वर्धन किया है, उसके लिए हम आप के आभारी हैं।

कल हमने 'सी.एम.ऑडियो क्विज़- 3' में फिल्म जगत की दो बेहद मकबूल हस्तियों की आवाजें सुनवाई थीं और प्रतियोगियों से पहचानने को कहा था। उन दो आवाजों में से एक आवाज थी- मशहूर अदाकारा और शायरा मीना कुमारी जी की और दूसरी आवाज थी - संगीत की बुलंदियों को छूने वाले संगीतकार नौशाद जी की। अधिकतर प्रतिभागियों ने मीना कुमारी जी को तो पहचान लिया परन्तु संगीतकार नौशाद जी की आवाज़ को बहुत ही कम प्रतिभागी पहचान सके। डॉ. अजमल खान जी ने एक बार फिर तत्परता दिखाते हुए सबसे पहले सही जवाब देकर दूसरी बार प्रथम स्थान हासिल किया। द्वितीय और तृतीय स्थान पर क्रमशः आशीष मिश्रा जी और राणा प्रताप सिंह जी रहे।

अपना स्नेह बनाये रखिये। आप की प्रतिक्रिया और सुझावों की प्रतीक्षा रहेगी।

समस्त विजेताओं व प्रतिभागियों को
बहुत-बहुत बधाई और शुभ कामनाएं।

**************************************

अब आईये -
'सी.एम.ऑडियो क्विज-3' के पूरे परिणाम के साथ ही क्विज में पूछे गए
फ़िल्म जगत की हरदिल अज़ीज़ दोनों हस्तियों के बारे में बहुत संक्षिप्त जानकारी प्राप्त करते हैं :
glitter
1- अभिनेत्री मीना कुमारी [Meena Kumari]

मीना कुमारी (1 अगस्त, 1932 - 31 मार्च, 1972) भारत की एक मशहूर अभिनेत्री थीं। 1952 में प्रदर्शित हुई फिल्म बैजू बावरा से वे काफी वे काफी मशहूर हुईं। मीना कुमारी का असली नाम माहजबीं बानो था और ये बंबई में पैदा हुई थीं।
meena kumariउनके पिता अली बक्श भी फिल्मों में और पारसी रंगमंच के एक मँजे हुये कलाकार थे और उन्होंने कुछ फिल्मों में संगीतकार का भी काम किया था। उनकी माँ प्रभावती देवी (बाद में इकबाल बानो), भी एक मशहूर नृत्यांगना और अदाकारा थी जिनका ताल्लुक टैगोर परिवार से था । माहजबीं ने पहली बार किसी फिल्म के लिये छह साल की उम्र में काम किया था। उनका नाम मीना कुमारी विजय भट्ट की खासी लोकप्रिय फिल्म बैजू बावरा पड़ा।

मीना कुमारी की प्रारंभिक फिल्में ज्यादातर पौराणिक कथाओं पर आधारित थे। मीना कुमारी के आने के साथ भारतीय सिनेमा में नयी अभिनेत्रियों का एक खास दौर शुरु हुआ था जिसमें नरगिस, निम्मी, सुचित्रा सेन और नूतन शामिल थीं। 1953 तक मीना कुमारी की तीन सफल फिल्में आ चुकी थीं जिनमें : दायरा, दो बीघा ज़मीन और परिणीता शामिल थीं

परिणीता से मीना कुमारी के लिये एक नया युग शुरु हुआ। परिणीता में उनकी भूमिका ने भारतीय महिलाओं को खास प्रभावित किया था चूकि इस फिल्म में भारतीय नारियों के आम जिदगी की तकलीफ़ों का चित्रण करने की कोशिश की गयी थी। लेकिन इसी फिल्म की वजह से उनकी छवि सिर्फ़ दुखांत भूमिकाएँ करने वाले की होकर सीमित हो गयी। लेकिन ऐसा होने के बावज़ूद उनके अभिनय की खास शैली और मोहक आवाज़ का जादू भारतीय दर्शकों पर हमेशा छाया रहा।

मीना कुमारी की शादी मशहूर फिल्मकार कमाल अमरोही के साथ हुई जिन्होंने मीना कुमारी की कुछ मशहूर फिल्मों का निर्देशन किया था। लेकिन स्वछंद प्रवृति की मीना अमरोही से 1964 में अलग हो गयीं। उनकी फ़िल्म पाक़ीज़ा को और उसमें उनके रोल को आज भी सराहा जाता है । शर्मीली मीना के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं कि वे कवियित्री भी थीं लेकिन कभी भी उन्होंने अपनी कवितायें छपवाने की कोशिश नहीं की। उनकी लिखी कुछ उर्दू की कवितायें 'नाज़' के नाम से बाद में छपी।
glitter
1- संगीतकार नौशाद [Musician Naushad]

नौशाद अली (1919-2006) हिन्दी फिल्मों के एक प्रसिद्ध संगीतकार थे । पहली फिल्म में संगीत देने के 64 साल बाद तक अपने साज का जादू बिखेरते रहने के बावजूद नौशाद ने केवल 67 फिल्मों में ही संगीत दिया, लेकिन उनका कौशल इस बात की जीती जागती मिसाल है कि गुणवत्ता संख्याबल से कहीं आगे होती है।
naushad2
नौशाद का जन्म 25 दिसम्बर 1919 को लखनऊ में मुंशी वाहिद अली के घर में हुआ था। वह 17 साल की उम्र में ही अपनी किस्मत आजमाने के लिए मुंबई कूच कर गए थे। शुरुआती संघर्षपूर्ण दिनों में उन्हें उस्ताद मुश्ताक हुसैन खां, उस्ताद झण्डे खां और पंडित खेम चन्द्र प्रकाश जैसे गुणी उस्तादों की सोहबत नसीब हुयी।

उन्हें पहली बार स्वतंत्र रूप से 1940 में 'प्रेम नगर' में संगीत देने का अवसर मिला, लेकिन उनकी अपनी पहचान बनी 1944 में प्रदर्शित हुई 'रतन' से जिसमें जोहरा बाई अम्बाले वाली, अमीर बाई कर्नाटकी, करन दीवान और श्याम के गाए गीत बहुत लोकप्रिय हुए और यहीं से शुरू हुआ कामयाबी का ऐसा सफर जो कम लोगों के हिस्से ही आता है। उन्होंने छोटे पर्दे के लिए'द सोर्ड ऑफ टीपू सुल्तान' और'अकबर द ग्रेट'जैसे धारावाहिक में भी संगीत दिया। मुगले आजम को जब रंगीन किया गया तो उन्हें बेहद खुशी हुई ।

फिल्मी
सफ़र :
अंदाज, आन, मदर इंडिया, अनमोल घड़ी, बैजू बावरा, अमर, स्टेशन मास्टर, शारदा, कोहिनूर, उड़न खटोला, दीवाना, दिल्लगी, दर्द, दास्तान, शबाब, बाबुल, मुगले आजम, दुलारी, शाहजहां, लीडर, संघर्ष, मेरे महबूब, साज और आवाज, दिल दिया दर्द लिया, राम और श्याम, गंगा जमुना, आदमी, गंवार, साथी, तांगेवाला, पालकी, आईना, धर्म कांटा, पाकीजा (गुलाम मोहम्मद के साथ), सन ऑफ इंडिया, लव एंड गाड सहित अन्य कई फिल्मों में उन्होंने अपने संगीत से लोगों को झूमने पर मजबूर किया।

मारफ्तुन नगमात जैसी संगीत की अप्रतिम पुस्तक के लेखक ठाकुर नवाब अली खां और नवाब संझू साहब से प्रभावित रहे नौशाद ने मुम्बई में मिली बेपनाह कामयाबियों के बावजूद लखनऊ से अपना रिश्ता कायम रखा। मुम्बई में भी नौशाद साहब ने एक छोटा सा लखनऊ बसा रखा था जिसमें उनके हम प्याला हम निवाला थे- मशहूर पटकथा और संवाद लेखक वजाहत मिर्जा चंगेजी, अली रजा और आगा जानी कश्मीरी (बेदिल लखनवी)), मशहूर फिल्म निर्माता सुलतान अहमद और मुगले आजम में संगतराश की भूमिका निभाने वाले हसन अली 'कुमार'। यह बात कम लोगों को ही मालूम है कि नौशाद साहब शायर भी थे और उनका दीवान 'आठवां सुर' नाम से प्रकाशित हुआ। पांच मई को 2006 को इस दुनिया को अलविदा कह गए।
glitter
पेश है मीना कुमारी जी की वही नज़्म
जिसकी क्लिप हमने क्विज में दी थी।

पेश है संगीतकार नौशाद जी का वही इंटरव्यू
जिसका एक अंश हमने क्विज में दिया था।

glitter
"सी.एम.ऑडियो क्विज़- 3" के विजेता प्रतियोगियों के नाम
glitter
जिन प्रतियोगियों ने एक जवाब सही दिया
applause applause applause समस्त
विजताओं को बधाईयाँ
applause applause applause
applause applause applause applauseapplauseapplauseapplause applause applause applause
happny
नव वर्ष आगमन पर आप सभी को अग्रिम शुभ कामनाएं

आशा है जो इस बार सफल नहीं हुए वो नए वर्ष की नयी क्विज में अवश्य सफल होंगे
आप सभी लोगों का हार्दिक धन्यवाद

यह आयोजन हम सब के लिये मनोरंजन ओर ज्ञानवर्धन का माध्यम है !
आपके पास कोई सुझाव हो तो हमें जरूर ई-मेल करें!
अंत में हम सभी प्रतियोगियों और पाठकों का पुनः आभार व्यक्त करते हैं
जिन्होंने क्रियेटिव मंच की क्विज़ में शामिल होकर हमारा उत्साह बढाया
th_Cartoon
2 जनवरी 2011, रविवार को हम ' प्रातः दस बजे' एक नई क्विज के साथ यहीं मिलेंगे !

सधन्यवाद
क्रियेटिवमंच
creativemanch@gmail.com
================
The End

28 टिप्‍पणियां:

  1. Dr.Ajmal ji, Aashish ji aur Rana Pratap ji ko badhayi
    baaki sabhi ko shubh kamnayen.
    bahut sundar presentation
    bahut sundar jaankari
    thanks

    उत्तर देंहटाएं
  2. आदरणीय मानवी जी
    मैंने दूसरा जवाब भी दिया था
    और मैडम इंदु जी के तो दोनों जवाब दिखाई भी दे रहे है आप को क्यूँ नहीं दिखे पता नहीं दुबारा कोपी पेस्ट कर रहा हूँ
    मोडरेशन का ये तो फायदा होता ही है चाहे कोई टिप्पणी छापो या ना छापो :)
    देखों
    इंदु अरोड़ा ने कहा…

    2. माननीय नौशाद जी

    1:16 PM, December 26, 2010
    गलती सुधारी जाए
    मेहरबानी होगी,सबकी मेहनत की कद्र होनी चाहिए

    उत्तर देंहटाएं
  3. आदरणीय दर्शन जी

    आप क्रिएटिव मंच के अति सम्मानित प्रतियोगी हैं. कम से कम ऐसी निराधार बातें तो न करें. आज तक एक भी पाठक/प्रतियोगी हमारे लिए यह नहीं कह सकता कि उसकी कोई भी प्रतिक्रिया प्रकाशित न की गयी हो.

    जहाँ तक क्विज़ परिणाम का प्रश्न है, उसमें हमसे अवश्य भूल हुयी है. किन्तु मानवीय त्रुटि संभावित है. बहुत ध्यान से सब कुछ तैयार करने के बावजूद भी कुछ कमी रह जाती है. आपकी प्रतिक्रिया पढ़ते ही तत्काल परिणाम सही कर दिया गया है.

    आपने लिखा है कि आपने दोनों जवाब दिए थे किन्तु कई बार जांचने के बाद भी आपका दूसरा जवाब कहीं नहीं दिखा. सारे मेल भी जांच लिए. लगता है आपका दूसरा जवाब हम तक पंहुचा ही नहीं.

    हम भली-भांति जानते हैं कि सभी प्रतियोगी मेहनत करते हैं, इसीलिए हम उनकी खुले दिल से सराहना करते रहे हैं. हम उनकी कद्र नहीं करेंगे तो भला कौन करेगा ?

    आपको जो असुविधा हुयी, उसके लिए हमें हार्दिक खेद है .. आपका सहयोग और स्नेह हमारे लिए निधि है.

    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  4. अजमल जी सहित सभी को बहुत सारी बधाई.
    नौशाद जी और मीना जी के बारे में बहुत अच्छी जानकारी दी है
    प्रस्तुतीकरण हमेशा की तरह लाजवाब
    क्रिएटिव मंच की टीम को नए साल की शुभ कामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  5. मानवी जी आपकी नयी पोस्ट डेशबोर्ड पर क्यों नहीं दिखाई दे रही है जब कि बहुत पहले ही रिजल्ट आ गया था ?

    उत्तर देंहटाएं
  6. माना जी माना,अब ठीक है
    कोई गळल नहीं वड्डे वड्डे शहरां विच्च छोटी छोटी घटनावां ते होंदीयाँ रंदीयाँ ने |
    हो गया होगा वो ही जो आप कह रहे है वो ही?
    अब ठीक है
    लड़ाई लड़ाई माफ करो
    अगली पहेली की बात करो
    हा हा
    आपका सहयोग और स्नेह हमारे लिए अनमोल है.
    अति सम्मानित प्रतियोगी
    दर्शन लाल

    उत्तर देंहटाएं
  7. sabhi vijetaon ko bahut badhayi
    bahut achhi aur sunad post taiyaar ki hai. do famous logon ke baare men kaafi saari jaankari mili.
    thanks

    उत्तर देंहटाएं
  8. maanavi ji jo baat shivendra ji kah rahe hain wo sahi hai. creative manch ki post sahi men dashbord par nahi dikhayi de rahi. aisa pahle kabhi nahi hua. aap dekhiye kya baat hai ?

    उत्तर देंहटाएं
  9. सभी विजेताओं को ढेर सारी बधाई
    ......
    मीना कुमारी जी और नौशाद जी के बारे में जानकार अच्छा लगा
    ......
    @ मानवी जी गाँव जाने के कारण अगली क्विज में मै शामिल नहीं हो पाउँगा :(
    ......
    सभी लोगों को नए वर्ष की ढेर सारी शुभकामनाएँ
    ......

    उत्तर देंहटाएं
  10. सबसे पहला सही उत्तर मेरा ही था लेकिन दूसरा पता ही नहीं चला...
    नौशाद साहब लगा था लेकिन क्लिप के हिसाब से उन्होंने कहा की उन्होंने सबसे पहले लीला चिटनिस की फिल्म में संगीत दिया था,

    लेकिन उनकी पहली फिल्म तो प्रेम नगर थी...

    यहीं सोच में पड़ गया...
    अगर किसी मित्र को इस बारे में जानकारी हो कृपया मेरी शंका का समाधान करें...

    क्या लीला चिटनिस का कोई और नाम भी था....

    सभी विजेताओं को बधाई...और दर्शन लाल जी आज कल कुछ ज्यादा ही परेशान लग रहे हैं...

    उत्तर देंहटाएं
  11. अरे नहीं अजमल भाई ने तो पहला उत्तर मुझसे भी पहले दिया था....

    उत्तर देंहटाएं
  12. आपको नए साल की शुभ कामनाएं / सभी विजेताओं को हार्दिक बधाई
    बहुत बढ़िया रही ये क्विज़
    जानकारी भी अच्छी लगी. आपकी पोस्ट हमेशा बहुत सुन्दर रहती है ---धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  13. Sabhi Vijetaaon ko bahut bahut badhayaee.
    @Shekhar Suman ji,
    yeh jaankari dekhen--

    Chandulal Shah, the owner of Ranjit Studios, offered to sign Naushad for one of his forthcoming films.
    Naushad composed a lilting bhajan for this film, Bata de koi kaun gali gaye Shyam ( film - kanchan singer - leela chitnis ).
    He composed only one song in this film , the other 10 songs were composed by Gyan Dutt .

    It was his first signed movie but the movie released in 1941 and took third number in his career.

    Naushad got his break with the film Prem Nagar (1940)

    उत्तर देंहटाएं
  14. Leela Chitnis was a popular actress in many films But also as--

    Director
    Aaj Ki Baat (1955) (Released)

    Playback Singer
    Bandhan (1940) (Released)
    Kangan (1939) (Released)

    Producer
    Aaj Ki Baat (1955) (Released)
    http://www.bollywoodhungama.com/celebrities/filmography/8998/index.html

    उत्तर देंहटाएं
  15. @क्या लीला चिटनिस का कोई और नाम भी था...
    Nahin -[net par uplabdh aisee koi jaankari nahin mili.]

    उत्तर देंहटाएं
  16. yahan bhi dkehen-

    http://en.wikipedia.org/wiki/Leela_Chitnis

    http://www.upperstall.com/people/leela-chitnis

    उत्तर देंहटाएं
  17. sabhi winners & participants ko mubarakbaad
    nice information about naushad ji and meena kumari ji.

    beautiful presentation
    happy new year to creative manch
    regards

    उत्तर देंहटाएं
  18. tamaam winners ko congratulations.
    umda jaankaari.post likhne ka dilkash andaaz .
    hamen Meena Kumari ji ki shayari pasand hai.
    Naushad sahab ka sangeet unmatchable hai hi.
    salute to these both great artists.

    उत्तर देंहटाएं
  19. सभी विजेताओ कॊ बधाई, आप की पोस्ट इस लिये इस तारीक मे नही दिखाइ दे रही क्योकि हो सकता हे आप ने इसे एक दिन पहले गलती से प्रकाशित कर दिया हो ओर फ़िर उसे सेव कर लिया हो, ओर वो फ़िर पुरानी तारीख पर ही दिखाई दे रही हे, शायद

    उत्तर देंहटाएं
  20. bahut afsos hua ki mere dono hi answer galat nikle
    next time try karunga ki jawaab sahi de sakun
    meri raeaf se aapko naye saal ki best wishesh

    उत्तर देंहटाएं
  21. सभी विजेताओ कॊ बधाई
    जानकारी भी अच्छी लगी.
    आपकी पोस्ट बहुत सुन्दर है

    उत्तर देंहटाएं
  22. अल्पना जी आपका बहुत बहुत धन्यवाद....

    उत्तर देंहटाएं
  23. सभी विजेताओं को बधाई...
    और आप सबको नए साल की शुभकामनाएं...

    उत्तर देंहटाएं
  24. क्रिएटिव मंच की पूरी टीम को सपरिवार नव वर्ष २०११ की हार्दिक शुभ कामनाएं.

    उत्तर देंहटाएं
  25. क्रिएटिव मंच के सभी सदस्यों को
    नव-वर्ष की हार्दिक बधाई!!

    उत्तर देंहटाएं
  26. मैं पहली बार आपके ब्लॉग पर हूं...बहुत अच्छा लगा...विजेताओं को और आपको नववर्ष की हार्दिक बधाई....

    उत्तर देंहटाएं
  27. आपको नव वर्ष 2011 की हार्दिक शुभकामनायें ...स्वीकार करें

    उत्तर देंहटाएं

'आप की आमद हमारी खुशनसीबी
आप की टिप्पणी हमारा हौसला'

संवाद से दीवारें हटती हैं, ये ख़ामोशी तोडिये !

CTRL+g दबाकर अंग्रेजी या हिंदी के मध्य चुनाव किया जा सकता है
+Get This Tool