सोमवार, 26 अक्तूबर 2009

ठहाका एक्सपेस - 8

anand sagar

इस बार 'ठहाका एक्सप्रेस- 8' के पायलट हैं -
Laughter is the Best Medicine
images (23) images (17) images (12)

एक बार एक अमरीकी, एक रूसी एवं बंता सिंह एक सज्जन के यहां चाय पर आमंत्रित थे। अमरीकी ने चाय पी कर अपना कप प्लेट में उल्टा करके रख दिया। रूसी ने चाय पीकर अपना कप प्लेट में सीधा रख दिया।

बंता सिंह, जो अब तक उनके टेबल मैनर्स की नकल कर रहा था, उसने कुछ सोच कर अपना कप प्लेट में आड़ा लिटा कर रख दिया। उसकी इस क्रिया को देख कर अमरीकी ने बंता से प्रश्न किया-

"भाई बंता आपने अपना कप प्लेट में आड़ा क्यों लिटा दिया है ?"
बंता ने कहा - "पहले आप बताइये कि आपने अपना कप उल्टा क्यों रख दिया ?"
अमरीकी ने कहा - `क्योंकि मुझे चाय और नहीं चाहिए थी।´
अब बंता ने रूसी से पूछा, `आपने अपना कप सीधा क्यों रखा था ?"
रूसी बोला - "क्योंकि मुझे और चाय चाहिए।"
रूसी और अमरीकी ने अब बंता से पूछा - "लेकिन आपने अपना कप आड़ा क्यों लिटा रखा है .. अब आप तो जवाब दें !"
बंता ने कहा - "यदि चाय और होगी तो मिल जायेगी, वरना कोई बात नहीं !"

संता सिंह एक वकील के पास गया। उसने अपनी पूरी कहानी बताई। वकील ने कहा - "बेफिक्र रहो ! हालांकि तुमने काम बहुत बुरा किया है, लेकिन तुम बच जाओगे। कोई कानून तुम्हें फंसा नहीं सकता। तुम सुनिश्चित छूट जाओगे। इसका मैं तुम्हें आश्वासन देता हूं।"

संता उठ कर खड़ा हो गया और जाने लगा तो वकील ने पूछा- "कहां जाते हो ? क्या मुकदमे की तैयारी नहीं करनी ?"

संता ने कहा - अब क्या फायदा ! क्योंकि मैंने कहानी अपने विरोधी आदमी की सुनाई थी। अगर उसकी जीत निश्चित ही है तो नाहक तुम्हें फीस देने से क्या फायदा !
************************************************************
aviator
भारतीय वैज्ञानिकों ने नयी मिसाईल ईजाद की !
************************************************************

निखट्टू जीजा को ताने देती हुयी साली बोली -
"आपकी भी कोई जिंदगी है ? मकान मां का है, दीदी के भेजे हुए कपडे पहनते हैं ! चाचा राशन का सामान भिजवा देती हैं और मैं आपके बच्चों की फीस भारती हूँ ....कितने शर्म की बात है !"


निखट्टू जीजा टस से मस नहीं हुए - "शर्म की बात तो है ही ! इसी शहर में तुम्हारे तीन भाई हैं, मगर आज तक उन्होंने एक पैसा भी नहीं भेजा !"

घड़ी की मरम्मत करने वाला एक कारीगर एक बड़ी लम्बी सीढी लगाकर घंटाघर की घड़ी ठीक करने लगा ! जब वह बहुत देर बाद उस लम्बी सीढी से उतरकर आया तों बुरी तरह थक चुका था !
एक महिला पास खड़ी उसे उतरते देख रही थी ! वह पूछ बैठी - "कहिये, घड़ी में कोई खराबी थी क्या ?"
चिढ़कर कारीगर ने कहा - "जी नहीं ... मुझे कम दिखता है इसलिए देखने गया था कि कितने बजे हैं !"

बीना ने रमा से पूछा - "तुम्हारे पतिदेव तो रात को बहुत देर से लौटा करते थे ? आजकल तो मैं देखती हूँ बहुत जल्दी लौट आया करते हैं, तुमने किया क्या ?"


रमा हंसती हुयी बोली - "इलाज कर दिया ! एक रात वो ग्यारह बजे लौटकर आये तो मैंने दरवाजे के अन्दर से ही कहा - "आओ विनोद बड़ी देर कर दी आज तुमने ! अब तो वो भी आते ही होंगे !
तुम तो जानती हो कि मेरे उनका नाम जयंत है
!"

************************************************************
tata_1_car
टाटा की नयी कार "पचास हजारा"

************************************************************
एस एम एस फंडा

मुझे जैसे शख्स को क्या चाहिए ?
एक लड़की जो प्यार दे !
एक लड़की जो अच्छा खाना बनाये !
एक लड़की जो पैसा कमाए !

और ऐसा नसीब कि
तीनों लड़कियां एक दुसरे से मिल न पायें !

***********************************************************

आप भी अगर कोई जोक्स, हास्य कविता या दिलचस्प संस्मरण भेजना चाहते हैं तो हमें मेल कर सकते हैं ,,,, आपका स्वागत है ! रचना को आपके नाम व परिचय के साथ प्रकाशित किया जाएगा !
क्रियेटिव मंच
creativemanch@gmail.com

13 टिप्‍पणियां:

  1. हा...हा...हा...हा...हा..
    मस्त है ठहाका एक्सप्रेस ...मजा आ गया
    क्या मिसाईल इजाद की है ..वाह ..
    और पचास हजार में ये कार भी बहुत है

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत खूब हमेशा की तरह
    इस बार ठहाका एक्सप्रेस का अंदाज बहुत बदला हुआ सा है लेकिन शानदार है
    पचास हजार तो मुझे भी चाहिए

    उत्तर देंहटाएं
  3. आज तो तत्काल मे रेसेर्वेशन करवा के आये हैं कमाल के जोक्स हैं धन्यवाद। अनन्त भाई आपको मेल की थी वापिस आ गयी। पता नहीं क्यों बता सकें तो धन्यवाद्

    उत्तर देंहटाएं
  4. हा हा हा...बहुत अच्छे..नए रूप में ठहाका एक्सप्रेस और भी शानदार है.....

    उत्तर देंहटाएं
  5. great
    Wow ..... what a wonderful pics
    yah missile bahut achi hai. ab pakistan darega.
    aur is car ki to baat hi kya
    hame bhi leni hai aisi wali car.

    उत्तर देंहटाएं
  6. " mast "

    ----- eksacchai { AAWAZ }

    http://eksacchai.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  7. ही..ही,,ही,,हा,,,हा,,हा,,हो,,हो,,हो
    बढ़िया है एक्सप्रेस
    बहुत मजेदार
    thanks to Mr. Aanand Sagar ji

    उत्तर देंहटाएं
  8. वाह क्या बात है
    मिसाईल में दम है ...बस अब इसको करांची या इस्लामाबाद तक भागने की ट्रेनिंग और दे दी जाए
    जोक्स मस्त हैं - आभार

    उत्तर देंहटाएं
  9. वाह वाह क्या बात है! बहुत ही बढ़िया और शानदार लिखा है आपने ! बड़ा मज़ेदार लगा और साथ ही एक से बढ़कर एक तस्वीरें ! लाजवाब पोस्ट के लिए बधाई !

    उत्तर देंहटाएं
  10. हा...हा...हा..
    बहुत ही मजेदार
    मिसाईल वाला आईटम जोरदार है और वाह रे टाटा की पचास हजार :)

    उत्तर देंहटाएं
  11. वाह बहुत उम्दा जोक्स हैं कमाल की रॉकेट और टाटा की नयी गाडी के क्या कहने !! संता सिंह का कप भाई वाह बहुत मजा आया !!

    उत्तर देंहटाएं

'आप की आमद हमारी खुशनसीबी
आप की टिप्पणी हमारा हौसला'

संवाद से दीवारें हटती हैं, ये ख़ामोशी तोडिये !

CTRL+g दबाकर अंग्रेजी या हिंदी के मध्य चुनाव किया जा सकता है
+Get This Tool